नवगछिया : नरकटिया नन्हकार की स्थिति चिंताजनक.. ऐसा हुआ तो पूरे इलाके में भारी तबाही

नवगछिया – बिहपुर व खरीक प्रखंड क्षेत्र के नरकटिया नन्हकार की स्थिति चिंताजनक हो गयी है. गंगा नदी के घटते क्रम में बांध के नीचे पानी का स्तर गिर रही है. जिसके कारण नव निर्मित बांध पर दिया गया जिओ बैग स्लीप कर गंगा नदी में समाने लगा है. बांध के समीप बसे ग्रामीण रोहिन दास, लाल बहादुर दास, मदन दास, ज्ञान देवदास, रंजीत दास, मंटू दास, संजय डोम, भादो सिंह, सुनील सिंह, सुनील सिंह, बाल किशन सिंह, कैलाश सिंह, भगवान यादव, परमेश्वर यादव, चंद किशोर यादव, विक्की यादव, शिबू यादव समेत अन्य लोगों ने कहा कि इस वर्ष गंगा नदी में बाढ़ के समय कम पानी होने के कारण जिओ बैग से बने तटबंध किसी तरह से बचाया गया था.

लेकिन आये दिन जब नदी के जल स्तर में बढ़ोतरी होगी या फिर कटाव प्रभावित हो जाएगा तो नरकटिया के पास बांध के ध्वस्त होने की संभावना बलवती हो जाएगी. अगर ऐसा हुआ तो पूरे इलाके में भारी तबाही होगी और नरकटिया गांव के एक दर्जन से अधिक परिवार बेघर हो जाएंगे. मालूम हो कि वर्ष 2019 में भी कई घर गंगा में विलीन हो गया था. स्थानीय ग्रामीणों ने इस बार सा समय नरकटिया बांध की मरम्मत करने की मांग जल संसाधन विभाग के पदा

धिकारियों से की है.

 

कहते हैं जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता

जल संसाधन विभाग नवगछिया के कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने कहा कि नरकटिया के पास बांध मरम्मत का प्रस्ताव भेजा गया है. उम्मीद है इस बार मानसून से पहले नरकटिया बांध को पूरी तरह से दुरुस्त कर दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *