0

नवगछिया बंद रहीं, लेकिन सड़कों पर घूमते रहे बाइक सवार, पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ा -Naugachia News

कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर बिहार सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन का असर दूसरे दिन नवगछिया शहर में प्रशासन की सख्ती के बाद देखने को मिला। पहले दिन सोमवार की शाम जहां बाजार में दुकानें खुली रहीं और शहर में भीड़ जमा हो गई थी वहीं मंगलवार सुबह से ही पुलिस और प्रशासन मुस्तैद रहे।

मंगलवार को दुकानदारों ने पूर्णरूप से लॉकडाउन का पालन किया। लोग भी घरों से नहीं निकले। इस दौरान थानाध्यक्ष राजकपूर कुशवाहा जवानों के साथ लगातार गश्ती करते दिखे। सिर्फ जरूरत के सामान जैसे किराना स्टोर व सब्जी की दुकानें खुली हुई थीं। जहां कुछ लोगों ने खरीदारी की। वहीं दूसरी ओर बस स्टैंड और नवगछिया स्टेशन पर पूरी तरह सन्नाटा पसरा रहा। लेकिन एसपी के निर्देश पर सोमवार को 46 वाहन चालकों पर कार्रवाई के बावजूद मंगलवार को कुछ वाहन चलते दिखे।

लॉकडाउन के बाद जहां दुकानों को बंद रखने में प्रशासन सफल रहा वहीं शहर की सड़कों पर बिना कार्य के दो पहिया वाहन दौड़तेे रहे। इन वाहनों पर पुलिस नियंत्रण नहीं कर पाई है। युवक सड़क पर दिनभर बाइक से इधर-उधर आते-जाते दिखे। लोगों का कहना है कि इन बाइक चालकों पर भी पुलिस को रोक लगानी चाहिए। तभी कोरोना वायरस की चेन को तोड़ा जा सकता है।

खरीक में लाॅकडाउन का उल्लंघन करने पर 12, नवगछिया में 9 और बिहपुर में 5 टेंपो जब्त

खरीक के विभिन्न चौक-चौराहे पर लाॅकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस ने 12 ऑटो व एक पिकअप वैन जब्त किया है। पुलिस ने इन चालकों पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्रभारी थानाध्यक्ष एन एस चौहान ने बताया कि उल्लंघन करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। वहीं दिन में एसडीओ मुकेश कुमार, एसपी निधि रानी, एसडीपीओ प्रवेन्द्र भारती समेत अन्य अफसर गश्त कर इलाके की गतिविधि पर नजर रखते दिखे। वहीं नवगछिया में एसडीओ मुकेश कुमार व एसडीपीओ प्रवेंद्र भारती के नेतृत्व में कई गई कार्रवाई में नौ टेंपो और एक ई रिक्शा को जब्त किया गया है। बिना काम सड़कों पर बाइक से घूमने पर नौ बाइक सवारों से कुल 9000 रुपए जुर्माना वसूला गया। जबकि बिहपुर में पांच टेंपो जब्त किए गए। सभी वाहन चालकों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

सुबह 7 से 10 व शाम 5 से 7 बजे तक खुलेंगी किराना दुकानें

नवगछिया | कोरोना वायरस के मद्देनजर नवगछिया नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी ने आवश्यक सेवा को देखते हुए निर्देश जारी किया है। कार्यपालक पदाधिकारी संजीव कुमार सुमन ने कहा कि सामाजिक अलगाव ही इस बीमारी को फैलने से रोकने का एक मात्र उपाय है। जिसको लेकर आम नागरिकों के आवागमन व भीड़ से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि राशन दुकान, मेडिकल स्टोर, सब्जी व फल दुकान के अलावा अन्य दुकानें खुलीं तो उनका लाइसेंस रद्द किया जाएगा। साथ ही दुकानदारों पर कार्रवाई भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि दुकानों के खुलने का समय भी निर्धारित कर दिया गया है। अखबार का वितरण सुबह आठ बजे तक, दूध का वितरण सुबह सात से दस बजे तक व शाम में पांच बजे से सात बजे तक किया जाएगा। किराना, सब्जी एवं फल की दुकानें सुबह सात से दस बजे तक और शाम में पांच से सात बजे तक खुली रहेंगी। कोई भी वाहन अनावश्यक रूप से घूमते या यात्री को ले जाते पाए जाने पर वाहन मालिक और चालक पर कार्रवाई की जाएगी। एक जगह पांच या उससे ज्यादा लोग घर के बाहर अनावश्यक रूप से पाए जाने पर कार्रवाई होगी। सड़क पर इधर-उधर गंदगी फैलने वालों पर भी कार्रवाई होगी।

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *