नवगछिया : छुट्‌टी के लिए बनाई फर्जी कोरोना रिपोर्ट, धराया तो बोला-मां की सर्जरी के लिए किया था फोटोशॉप में एडिट

मामले में कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि जांच चल रही है। अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। बता दें कि सदर अस्पताल में भी एेसा ही मामला सामने आ चुका है। जब कंपनी ने जांच कराई थी तो पता चला, फ्लू काॅर्नर के फाेर्थ ग्रेड कर्मचारी ने अपने हस्ताक्षर से पाॅजिटिव रिपाेर्ट बनाकर दिया था। बाद में कर्मचारी पर सीएस ने कार्रवाई कर नवगछिया तबादला किया था।

प्रियतम कुमार प्रियदर्शी एफिनॉज डिजिटाइजिंग फाइंनेंस कंपनी नोएडा में डिजिटल मार्केटिंग टीम के सदस्य हैं। कोरोनाकाल में वह वर्क फ्रॉम होम में अपने जय विहार कॉलोनी स्थित घर से काम कर रहा था। अब कंपनी उसे वापस मुख्यालय दिल्ली बुला रही थी। प्रियतम अभी दिल्ली नहीं लौटना चाह रहा था। वह नवीन कुमार के इलेक्ट्रिक दुकान पर गया और वहां रखी निगेटिव रिपोर्ट ले ली। इसे फोटोशॉप पर एडिट कर कंपनी को भेज दिया।

भागलपुर : नोएडा के एक कंपनी के कर्मचारी ने अपनी छुट्‌टी बढ़ाने के लिए मायागंज अस्पताल से मिली रिपोर्ट में फर्जीवाड़ा कर रिपोर्ट दे दी। कंपनी को शक हुआ तो अस्पताल से उन्होंने जानकारी मांग ली। इसके बाद कर्मचारी के फर्जीवाड़े की पोल खुल गई। कोरोना निगेटिव नवीन कुमार की रिपोर्ट में कंपनी कर्मी प्रियतम कुमार प्रियदर्शी ने अपना नाम लिख दिया था।

मामले में कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि जांच चल रही है। अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। बता दें कि सदर अस्पताल में भी एेसा ही मामला सामने आ चुका है। जब कंपनी ने जांच कराई थी तो पता चला, फ्लू काॅर्नर के फाेर्थ ग्रेड कर्मचारी ने अपने हस्ताक्षर से पाॅजिटिव रिपाेर्ट बनाकर दिया था। बाद में कर्मचारी पर सीएस ने कार्रवाई कर नवगछिया तबादला किया था।

प्रियतम कुमार प्रियदर्शी एफिनॉज डिजिटाइजिंग फाइंनेंस कंपनी नोएडा में डिजिटल मार्केटिंग टीम के सदस्य हैं। कोरोनाकाल में वह वर्क फ्रॉम होम में अपने जय विहार कॉलोनी स्थित घर से काम कर रहा था। अब कंपनी उसे वापस मुख्यालय दिल्ली बुला रही थी। प्रियतम अभी दिल्ली नहीं लौटना चाह रहा था। वह नवीन कुमार के इलेक्ट्रिक दुकान पर गया और वहां रखी निगेटिव रिपोर्ट ले ली। इसे फोटोशॉप पर एडिट कर कंपनी को भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *