" />
Published On: Sat, Feb 9th, 2019

नवगछिया: खौफ के साए में जी रहा कुमादपुर का RTI कार्यकर्ता का पूरा परिवार, खुलासे के बाद हड़कंप

adv

नवगछिया – रंगरा थाना क्षेत्र के कुमादपुर निवासी एवं आरटीआई एक्टिविस्ट किशन कुमार के द्वारा रंगरा बीडीओ से मदरौनी पंचायत में सात निश्चय योजना के तहत किए जा रहे विकास कार्यों की मांगी गई सूचना एवं लगभग 20 लाख की सरकारी राशि के घोटाले के खुलासे के बाद उनका पूरा परिवार खौफ के साए में जी रहा है. दबंगों का खौफ उनके एवं उनके परिवार के ऊपर इस प्रकार साये की तरह मंडरा रहा है कि वे लोग दबंगों के भय से घर से भी नहीं निकल पा रहे हैं. बताते चलें कि आरटीआई एक्टिविस्ट किशन कुमार के द्वारा रंगरा बीडीओ से पिछले दिनों मदरौनी पंचायत अंतर्गत वार्ड संख्या 4 में सात निश्चय योजना के तहत लाखों रुपए से किए जा रहे विकास कार्यों की सूचना मांगी गई थी.

जिसमें वित्तीय वर्ष 18-19 में वार्ड क्रियान्वयन समिति के द्वारा चयनित 4 योजनाओं में लगभग 20 लाख की राशि का घोटाले का मामला प्रकाश में आया है. घोटाले के खुलासे के बाद पिछले बुधवार की देर रात वार्ड सदस्य के दबंग पुत्रों एवं उनके समर्थकों के द्वारा आरटीआई एक्टिविस्ट के घर पर हमला बोल दिया गया था. जिसमें उन्होंने एवं उनके परिवार के लोगों ने घर में छिप कर अपनी जान बचाई थी. साथ ही साथ दबंगों ने उनकी चार पहिया कार को भी पेट्रोल छिड़ककर जला दिया था.

इसके बाद घटना की सूचना पर पहुंची रंगरा पुलिस द्वारा हमलावरों के भागने के दौरान गिरे देसी कट्टे को भी मौके से बरामद किया था. घटना को लेकर पिड़ीत आरटीआई एक्टिविस्ट किशन कुमार के बयान पर गांव के ही वार्ड सदस्य के पुत्र एवं चार-पांच उनके समर्थक लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए रंगरा पुलिस द्वारा कुमादपुर स्थित उनके घर के अलावे आसपास के गांवों में लगातार छापेमारी की जा रही है. मगर पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं.

,, कहती है नवगछिया एसपी

इस बाबत पूछे जाने पर नवगछिया एसपी निधि रानी ने कहा कि घटना को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है. नामजद आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......