" />
Published On: Tue, Mar 24th, 2020

नवगछिया : खरीक पीएससी से 8 कोरोना संदिग्ध मरीजों को मायागंज आइसोलेशन सेंटर भेजा -Naugachia News

खरीक : कोरोना वायरस से पुरा इलाका परेशान है दिनोंदिन संदिग्धों की संख्या बढ़ती जा रही है सोमवार को खरीक पीएससी से तकरीबन 8 कोरोना संदिग्ध मरीजों को मायागंज आइसोलेशन सेंटर भेजा गया.  पीएचसी प्रभारी उसी मोबाइल नंबर 943170003107 को नियंत्रण कक्ष का नंबर जारी कर दिया. इस स्थिति में लोगों को फोन करने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है. बहुत प्रयास के बाद फोन लगता भी है तो फोन रिसिव नही होता. बात होने के बाद पीएचसी प्रभारी पीएचसी तैनात चिकित्सकों को फोन करते हैं जिसके बाद चिकित्सक आगे की कारवाई करते है.

वहीं खरीक पीएचसी प्रभारी डॉ. करमचंद सरकारी मोबाइल के साथ बिना छुट्टी के दिल्ली चले गये हैं। हैरत की बात यह है कि मोबाइल दिल्ली में है, फिर भी प्रभारी का ही मोबाइल नंबर को नियंत्रण कक्ष का नंबर जारी किया गया है। इस कारण लोगों को फोन करने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। काफी प्रयास के बाद फोन लगता भी है तो कभी फोन रिसिव होता है तो कभी नहीं। बात होने के बाद प्रभारी पीएचसी में तैनात कर्मियों एवं चिकित्सकों को फोन करते हैं। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाती है। सीएस विजय कुमार ने बताया कि प्रभारी को किसी प्रकार की छुट्टी नहीं दी गई है। वह पांच-छह दिनों से कैसे गायब हैं, इसको लेकर उनसे बात करूंगा।

संदिग्ध की जाँच के लिए दो टीम गठित

खरीक पीएचसी द्वारा कोरोना को लेकर संदिग्ध की जाँच के लिए दो टीम तो गठित कर दी गई है.मरीजों की जाँच के लिए अबतक मुकम्मल व्यवस्था नहीं की गई है. टीम में डॉ संत कुमार निराला, डॉ सीके प्रसाद, डॉ एस के गुप्ता, डॉ आरके साह समेत एएनएम को शामिल है. इसके अलावे ऑटो के माध्यम से भी माइकिंग कर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है.

सात संदिग्ध को जांच के लिए भेजा गया मायागंज

खरीक : पीएचसी द्वारा सोमवार की देर रात तक 8 कोरोना संदिग्ध मरीजों को मायागंज आइसोलेशन सेंटर भेजा गया है .रविवार को दो एवं सोमवार को छः संदिग्ध को जाँच हेतु भेजा गया. जिसमें प्रखंड के विभिन्न गाँवो के संदिग्ध शामिल है. इन संदिग्ध को पुलिस एवं कुछ ग्रामीणों के सहयोग से पीएचसी लाया गया था. जाँच के लिए मायागंज भेजा दिया गया

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......