नवगछिया : कोसी में उफान जारी गंगा के जल स्तर में आई कमी, कदवा एवं मदरौनी गांव में बाढ़ का पानी-Naugachia News

नवगछिया : गंगा एवं कोसी नदी के जल स्तर में लगातार हो रही वृद्धि के कारण शुरुआती दौड़ में हो अनुमंडल के दर्जनों गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. कोसी नदी के जल स्तर में लगातार वृद्धि होने के कारण भूतनाथ बांध के टूटने के बाद कोसी नदी के बाढ़ का पानी कदवा के ठाकुर जी कचहरी टोला के दर्जनों लोगो के घरों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. जल स्तर में वृद्धि होने से गांव को मुख्य सड़क से जोड़ने वाली सड़कों पर भी पानी चढ़ने लगा है. कोसी नदी के जल स्तर में इसी तरह वृद्धि जारी रही तो बाढ़ का पानी सड़को पर आ जाएगा जिससे आधा दर्जन गांव का मुख्य सड़क से संपर्क भांग हो जाएगा.

इधर मदरौनी गांव में भी जल स्तर में हुई वृद्धि के बाद कई लोगों के घरों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. जल संसाधन विभाग के अभियंता के कनीय अभियंता सुबोध कुमार ने कहा कि कोसी नदी के जिल स्तर में वृद्धि जारी है. वर्तमान में नदी 31.15 मीटर पर बह रही है. कोसी नदी वर्तमान में खतरे के निशान 30.48 से 67 सेमी ऊपर बह रही है. विभाग के अभियंता बताते है को जल स्तर में अभी और वृद्धि होने की संभावना है. लेकिन वृद्धि काफी धीमी गति से हो रही है. पिछले 24 घंटे में तीन सेंटीमीटर की वृद्धि हुई है.

इधर गंगा नदी के जल स्तर में आई कमी से तटवर्ती गांव के लोगों ने राहत की सांस ली है. नदी के जल स्तर में कमी आने के बाद भी इस्माईलपुर बिंदटोली के बीच स्पर संख्या छह के पास नदी का दबाव बना हुआ है. इसके अलावा इस्माइलपुर के दर्जनों गांव पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. जल संसाधन विभाग के कनीय अभियंता राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि गुरुवार को भी जल स्तर में चार सेंटीमीटर की कमी हुई. दो दिनों से लगातार जल स्तर में आई कमी के बाद नदी खतरे के निशान 31.60 मीटर से नो सेंटीमीटर नीचे 31.51 मीटर पर बह रही है. मालूम हो को दो दिन पहले गंगा नदी खतरे के निशान से चार सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *