0

नवगछिया के दो हजार से अधिक लोग कोरोना और भूख से लड़ रहे हैं पंजाब पुलिस कर रही मदद – Naugachia News

लॉकडाउन के बाद देश के कई राज्यों के कई हिस्सों में नवगछिया के करीब दो हजार से अधिक मजदूर फंसे हुए हैं। ये सभी दिल्ली, नोएडा, तेलंगाना, हरियाणा में फंसे हैं। हमारे इन मजदूर भाईयों की अब बस एक ही इच्छा है कि वह किसी तरह अपने गांव और अपनों के बीच पहुंच जाएं। लेकिन लॉकडाउन में कोई उपाय इन्हें नहीं सूझ रहा है। देश में लॉकडाउन की वजह से सभी जगहों पर काम बंद हो गया है और ठेकेदारों ने अपना पल्ला झाड़ लिया है। ऐसी स्थिति में सभी के सामने रोटी की सबसे बड़ी समस्या खड़ी हो गई। ये सभी मजदूर एक तरफ तो भूख और तो दूसरी तरफ कोरोना वायरस से जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। शुक्रवार को अलग-अलग जगहों पर रहने वाले मजदूरों ने अपना वीडियो नवगछिया भेजकर पुलिस और प्रशासनिक पदाधिकारी, जनप्रतिनिधियों से वापस बुलाने के लिए सहयोग मांगा है। वहीं देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे मजदूरों के परिजन किसी अनहोनी की आशंका से सहमे हुए हैं। उधर, एसपी निधि रानी ने कहा है कि नवगछिया के जो भी मजदूर देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे हैं वे लोग नवगछिया पुलिस के अधिकृत नंबरों पर सूचना करें। उनके लाने की व्यवस्था होगी।

दिल्ली, नोएडा, तेलंगाना, हरियाणा में फंसे हैं हमारें यहां के मजदूर भाई, इनकी अब बस एक ही इच्छा, किसी तरह पहुंच जाएं अपने गांव
दिल्ली सरकार के शिविर में मिला मजदूरों को भोजन

कई दिनों से भूखे दिल्ली के महरौली विधानसभा के वसंतकुंज मसूदनपुर में फंसे नवगछिया के कोसी पार कदवा, तेतरी और बगड़ी गांव के दो सौ मजदूरों को शुक्रवार को दिल्ली सरकार की ओर लगाए गए शिविर में भोजन की व्यवस्था की गई है। पूर्व सांसद अनिल कुमार यादव की पहल के बाद महरौली के स्थानीय प्रशासन ने सहयोग करने का भरोसा जताया है सभी मजदूर दिल्ली से नवगछिया आना चाह रहे हैं।

नोएडा में फंसे हैं 50 से अधिक मजदूर

यूपी के नोएडा में 50 से अधिक मजदूर फंसे हुए हैं। हरियाणा के सोनीपथ, यूपी के गोरखपुर में नवगछिया के और रंगरा के जहांगीरपुर वैसी के तीस मजदूरों के भी दिल्ली में फंसे होने की सूचना है। खैरपुर के बिंदटोली गांव निवासी त्रिवेणी सिंह, सिकेन्दर मंडल व विपिन मंडल के साथ 6 मजदूर हरियाणा से आते समय इलाहाबाद के छौकी स्टेशन पर फंस गए, जो पास के गांव में मांग कर खा रहे हैं।

लाल किला के पास फंसे हैं पचगछिया के 116 लोग

दिल्ली के लाजपत राय मार्केट, लाल किला के पास पचगछिया के 116 मजदूर लॉकडाउन के बाद से फंसे हैं। सभी ने एक वीडियाे भेजकर नवगछिया के स्थानीय प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से मदद की गुहार लगाई है। फंसे मजदूरों में मो. अफजल, मो. हामीद, मो. अफरोज ने बताया कि यहां उनलोगों के समक्ष सबसे बड़ी समस्या भोजन और रहने की है।

राजद नेता की पहल पर तेलंगाना में मिला भोजन

खरीक के तुलसीपुर, जमालदीपुर और मीरजाफरी के एक सौ से ज्यादा मजदूर तेलंगाना में फंसे हैं, जो भूखे-प्यासे हैं। मजदूरों ने फेसबुक पर अपना वीडियो वायरल किया, जिसे देखने के बाद युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता अरुण कुमार ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को बताया। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष की पहल पर वहां फंसे मजदूरों के लिए भोजन और कोरोना से लड़ने के लिए संसाधनों की व्यवस्था हुई।

गोपालपुर के रहने वाले कुछ मजदूर और उनका परिवार पंजाब के लुधियाना में फंसा हैं। उनके पास खाने और रहने के लिए साधन नहीं हैं। फंसे लोगों ने जब नवगछिया पुलिस से संपर्क किया, तो नवगछिया पुलिस ने पंजाब पुलिस से संपर्क कर ऐसे लोगों के खाने और रहने का इंतजाम कराने का आग्रह किया। इसके बाद पंजाब पुलिस ने सभी लोगों को भोजन कराया।

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *