0

नवगछिया : करीब एक दर्जन घर धू-धूकर जल गया…. किसी तरह पाया काबू, हुई लाखों की क्षति -Naugachia News

प्रखंड के सोनवर्षा गांव का कठौतिया टोला वार्ड नंबर-16 जल उठा। चूल्हे से निकली चिंगारी में करीब एक दर्जन घर धू-धूकर जल गए। घटना मंगलवार को दिन के 9 बजे की बताई गई है। बताया जाता है कि वकील मंडल के घर चूल्हे पर खाना बन रहा था, उसी दौरान हवा के झोंके में चूल्हे की चिंगारी ने पहले वकील मंडल के घर को अपनी चपेट में लिया और घर में रखा छोटा गैस सिलंडर फट गया। सिलेंडर फटते ही आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। आग की लपटें 25 से 30 फीट ऊपर उठ रहीं थीं। देखते ही देखते एक के बाद दर्जनों घरों में आग लग गई। किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन इस घटना के बाद आग बुझाने के दौरान संतोष कुमार व सुनील मंडल आंशिक रूप से झुलस गए। जिन्हें इलाज के लिए प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के बाद दोनों युवक ठीक बताए गए हैं।

घटना की खबर पूरे गांव में अफरा-तफरी मच गई। हो-हला से पूरा गांव सिहर उठा। घरों से भागकर लोगों ने अपनी-अपनी जान बचाई। आग के विकराल रूप के आगे ग्रामीणों पर आग पर काबू पाने की कोशिश बेकार गई, दो घंटे के अंदर लोगों की आंखों के सामने सब कुछ खत्म हो गया। थाने की सूचना पर नवगछिया से दो दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक सब कुछ जल कर राख हो चुका था। हैरानी की बात तो यह कि थाने के साथ-साथ आग लगने की सूचना ग्रामीणों ने बिहपुर सीओ रतन लाल को भी दी थाने की पुलिस ने तो दमकल की गाड़ी भिजवा दी, पर सीओ के बयान से ग्रामीणों में गुस्सा पनप गया। ग्रामीणों ने बताया कि सूचना देने पर सीओ ने मदद की बात पर कहा कि पहले प्राथमिकी दर्ज कराओ, फिर मुआवजा या कोई मदद मिलेगी।

घटना के बाद पीड़ित अपने-अपने घरों के सामने खड़े होकर रो-चिल्ला रहे थे

इस घटना में वकील मंडल, उपेंद्र मंडल, टिपू मंडल, गोरखी मंडल, जुल्फी मंडल, अजय मंडल, चुलहाय मंडल, पंपलु मंडल, झिगो मंडल, अशोक मंडल, अजय मंडल, मोसमात समफुला देवी, मुल्हो मंडल, चुलाह मंडल के घर जल कर राख हो गए हैं। लोगों के घरों अनाज का एक दाना तक नहीं बचा। घर में रखे पैसे, कागजात, बर्तन, कपड़ा, फर्नीचर सहित अन्य सामान सब खाक हो गए हैं। सभी पीड़ित सड़क पर आ गए, दूसरों के घरों में शरण लिया है। सभी पीड़ित मजदूरी कर किसी तरह से अपना-अपना परिवार चलाते थे। इस घटना में उनके सभी सपने बिखेर गए। घटना के बाद अपने-अपने घरों के सामने खड़े पीड़ित रो-चिल्ला रहे थे।

मदद को आगे आई मुखिया ने बांटे अनाज, बर्तन व कपड़े

इतनी बड़ी घटना के बाद प्रखंड प्रशासन तो पीड़ितों की मदद में आगे नहीं आया, सीओ ने तो मदद करने की जगह, पीड़ितों को थाने की राह दिखाकर अपना पल्ला झाड़ लिया, पर सोनवर्षा पंचायत की मुखिया नाना रानी पीड़ितों की मदद को आगे आईं। मुखिया मंगलवार की शाम 4 बजे अपने निजी कोष से पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए राहत सामग्री लेकर पहुंची और उनके बीच वितरण किया। सभी परिवार को 50-50 किलो गेहूं, चावल, साड़ी, लूंगी, गमछा, खाना बनाने के बर्तन, तिरपाल व 3-3 हजार रुपए की नकद राशि भेंट की। मौके पर मुखिया ने कहा कि पीड़ितों को सरकारी राहत सामग्री दिलाने को लेकर वह प्रशासन मिलकर बात करेंगी। ताकि इन्हें सरकारी मदद मिल सके।

अब घर बनाएं या बेटी की शादी करें

चुलाह मंडल अपनी बेटी की शादी के लिए लड़ाका खोज रहा था। मजदूरी कर पाई-पाई जोड़ा था। कुछ शादी का सामान भी जुटा लिया था। पर इस घटना में उसका बेटी के शादी करने का सपना टूट गया। कहा कि अब फिर पाई-पाई जोड़कर पहले घर बनाना पड़ेगा, तब कहीं बेटी की शादी कर पाएंगे

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *