नवगछिया : अवैध हथियार दिखाकर डराने धमकाने के बाद, अंचल कार्यालय, आरटीपीएस सेवा भी ठप

नवगछिया : शुक्रवार को अंचल कार्यालय में एक अपराधी के आ धमकने के बाद दूसरे दिन के एक भी कर्मी अंचल कार्यालय नहीं गया. लिहाजा अंचल कार्यालय में ताला लटका रहा और आरटीपीएस सेवा भी ठप रही. इधर अंचल कर्मियों ने शनिवार को नवगछिया अनुमंडल कार्यालय में आवेदन दिया है. अंचल कर्मियों ने कहा कि शुक्रवार को लगभग 3:00 बजे एक अज्ञात व्यक्ति अंचल कार्यालय में प्रवेश कर सभी कर्मी को अवैध हथियार दिखाकर डराने धमकाने लगा और गाली गलौज करते हुए प्रशासन को देख लेने की धमकी देते हुए कहा कि प्रशासन मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकेगा.

अंचल कर्मियों का कहना है कि घटना के वक्त प्रखंड विकास पदाधिकारी इस्माइलपुर भी उपस्थित थे लेकिन वह वहां से चले गए. अंचल कर्मियों ने कहा कि वह इस घटना से काफी भयभीत और डरे हुए हैं. अंचल कर्मियों ने पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध करवाने की मांग करते हुए कहा है कि जब तक पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराई जाती है. तब तक वे लोग अंचल कार्यालय इस्माइलपुर में उपस्थित होकर कार्य करने में असमर्थ हैं. अंचल कर्मियों ने कहा कि इस्माइलपुर आने जाने का रास्ता काफी सुनसान है. हम लोगों के साथ रास्ते में कभी भी अप्रिय घटना हो सकती है. अंचल कर्मियों ने कहा कि वे लोग सभी कर्मी अनुमंडल कार्यालय में उपस्थित है.

कहते हैं इस्माइलपुर थाना अध्यक्ष

इस्माइलपुर के थानाध्यक्ष मणि पासवान ने कहा कि घटना की जानकारी उन्हें अपने सोर्स से मिली है. जिसके बाद उन्होंने अंचल कार्यालय के इर्द-गिर्द चौकसी बढ़ा दी है. लेकिन अभी तक अंचल कर्मियों के तरफ से किसी तरह का आवेदन या मौखिक शिकायत भी नहीं किया गया. थानाध्यक्ष ने कहा कि अंचल से थाने की दूरी महज 500 मीटर है. अगर कोई कर्मी उन्हें फोन कर देता तो वही वहां पर जाकर उक्त अपराधी को गिरफ्तार कर लेते. लेकिन पुलिस को अंचल कर्मियों ने कोई सूचना नहीं दी.

कहते हैं अनुमंडल पदाधिकारी

नवगछिया के अनुमंडल पदाधिकारी ई अखिलेश कुमार ने कहा कि अभी तक आवेदन उनके संज्ञान में नहीं आया है. आवेदन संज्ञान में आते ही संबंधित पुलिस पदाधिकारी को अग्रसारित किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *