0

नवगछिया : अफवाह का दौर शुरू.. रामचरित मानस और दुर्गासप्स्ती में बाल निकल रहा, सैकड़ों लोगों ने पढ़ी – Naugachia News

नवगछिया : कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री की अपील के चलते शनिवार को जनता कफ्र्यू लगा था । लेकिन आज  दोपहर तक एक अफवाह के चलते सैकड़ों लोगों ने रामचरित मानस के पन्ने खंगाल डाले। सभी से अपील की अफवाह पर ध्यान न दें और संक्रमण से बचाव के साथ साधानियां बरतें।

क्या है पूरा मामला

नवगछिया शहर के कुछ गावो (तेतरी, भवानीपुर, गोसाईगावं, मुरली और अन्य) में एक अफवाह तेजी के साथ फैली कि रामचरित मानस और दुर्गासप्स्ती में एक बाल निकल रहा है। रामचरित मानस के बालकांड से निकलने वाले तीन अंगुल के बाल को पानी में उबाल कर गंगाजल मिलाएं और इसके बाद उसे परिवार को पिलाएं, इससे संकट नहीं आएगा। बाल को बालकांड में ही रख दें और रोजाना ऐसा ही करें। इस अफवाह के बाद लोगों ने रामचरित मानस और दुर्गासप्स्ती के पन्नों को खंगालना शुरू किया, कुछ को बाल मिला कुछ बाल नहीं मिला ये इत्तेफाक हो सकता है ।

रामचरित मानस और दुर्गासप्स्ती में बाल निकलनें की की लोगों ने पुष्टि नहीं की। तेतरी निवासी एक लड़की ने बताया कि उन्होंने भी बालकांड के पन्ने पलटे और रिश्तेदार को जानकारी दी। बाल मिलने की सूचनाएं कई घरों से मिली है। वही ये खबर आग की तरह आसपास के इलाके में पहुंची लेकिन उन्हें कोई बाल नहीं मिला। ये अफवाह कुछ दिन पहले कानपूर के अलावा आसपास के जनपदों में मिली थी और वहां भी रामचरित मानस के पप्पे पलटे गए।

विज्ञान से कोई लेना-देना नहीं

कुछ जानकारों कहते हैं कि ऐसी अफवाहों का विज्ञान का कोई लेनादेना नहीं है। लोगों को इस तरह की अफवाहों से बचना चाहिये और बीमारी से बचाव के लिए जरूरी सावधानियां अमल में लाना चाहिये। डाॅक्टर गुप्ता ने लोगों से अपील की कोरोना से बचने के लिए घर पर रहें। बार-बार हाथ धुलें और ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं। शाम के वक्त हल्के गर्म पानी से स्नान करें। यही कोरोना का सटीक इलाज है।

कोई वैज्ञानिक पहलू नहीं

आइआइटी के एयरोस्पेस विभाग के प्रोफेसर एवं भारतीय पुरात्तव विभाग के विशेषज्ञ डीपी मिश्रा का कहना है कि यह पूरी तरह अफवाह है। इसमें कोई वैज्ञानिक पहलू नहीं है, इस तरह की बातों से दूर रहें। लोग कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी सावधानियां बरतें। उर्सला के रिटायर्ड निदेशक डाॅक्टर अशोक निगम ने कहा कि पैनिक से बचें और कोरोना से बचने के लिए घर पर रहें। सोशल मीडिया में कोरोना को लेकर जो इलाज बचाते जा रहे हैं उन पर ध्यान न दें।

दर्ज हो सकता है मुकदमा

शहर के लोग इस तरह की अफवाहों पर कतई ध्यान न दें। कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी सावधानी और सुरक्षा उपायों को अमल में लाएं। बच्चों बौर बुजुर्गों को घर से बाहर न निकलने दें। रविवार को शहर के लोग जनता कफ्र्यू में सहयोग करें और घरों से बाहर नहीं निकले।

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *