" />

चिंताजनक : भागलपुर में एक दिन में सबसे अधिक 25 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

जिले में कोरोना से पहली मौत की शुक्रवार को पुष्टि हो गई। ईद मनाने के लिए मुंबई से आये जगदीशपुर की सैनो पंचायत के 41 वर्षीय जिस शख्स की मौत गुरुवार को हुई थी, शुक्रवार को आई उसकी जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है।

इसके अलावा जिले के छह प्रखंडों में 25 और लोग कोरोना के शिकार हुए हैं। इनमें से सबौर प्रखंड से सात, गोराडीह प्रखंड से पांच व जगदीशपुर के आठ लोग शामिल हैं। इसके साथ ही जिले में कुल कोरोना मरीजों का आंकड़ा 145 पर पहुंच गया है। सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव पाये गये मृतक के परिजनों व संपर्कियों को ट्रेस कर उनकी जांच कराने की तैयारी शुरू कर दी गयी है। जबकि कोरोना पॉजीटिव मरीजों को मायागंज अस्पताल के एमसीएच कोरोना आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। गोराडीह प्रखंड के गनौरा मोहनपुर के चार युवक और इसी प्रखंड के मानपुर गांव निवासी 45 वर्षीय शख्स मुंबई से भागलपुर तक की यात्रा ट्रक से तय की थी। सभी ट्रक से उतरकर सीधे गंगा नहाने गये थे। इसके बाद कहा था कि गंगा नहाने से कोरोना भाग गया। वहीं पीरपैंती के 24 वर्षीय युवक, कहलगांव में 55 वर्षीय अधेड़ और 24 वर्षीय महिला, रंगरा में आठ साल की बच्ची और 28 वर्षीय महिला भी कोरोना पाॉजिटिव पाई गई है।

100 की स्क्रीनिंग 59 होम क्वारंटाइन

भागलपुर। सदर अस्पताल के फ्लू कॉर्नर में शुक्रवार को 100 लोगों की कोरोना स्क्रीनिंग की गयी। इनमें से आठ लोगों को प्रखंड में बने क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया तो 59 लोगों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन किया गया। वहीं मायागंज अस्पताल के एमसीएच कोरोना आइसोलेशन वार्ड में शुक्रवार को पांच कोरोना पॉजिटिव मरीजों को भर्ती कराया गया। इसके साथ ही यहां पर भर्ती मरीजों की संख्या 73 पर पहुंच गयी।

प्रखंड की सैनो पंचायत के एक गांव में मुंबई से आये 41 वर्षीय व्यक्ति की गुरुवार को संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गयी थी। इसके बाद मेडिकल टीम ने कोरोना जांच के लिए सैंपल लिया था। जांच रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई है। इलाके में हड़कंप मच गया है।

जगदीशपुर पीएचसी के चिकित्सा पदाधिकारी बज्रभूषण मंडल ने बताया कि मुबंई से आये युवक (मृतक) की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। उसके साथ भागलपुर आये अन्य सात लोगों की पहचान करने में मेडिकल टीम जुट गयी है। वहीं बीडीओ चन्द्रभूषण गुप्ता ने बताया कि वरीय अधिकारी का निर्देश मिलते ही उस इलाके को सील कर दिया जायेगा। स्थानीय लोगों ने बताया कि युवक ईद से एक दिन पहले आया था। उसके साथी शाहजंगी पंचायत के रहने वाले बताये जा रहे हैं। युवक घर में छिपकर रह रहा था। जब तेज बुखार, खांसी व सर्दी होने लगी तो परिजन उसे टेम्पो से रजौन इलाज कराने ले गये फिर उसे पुरैनी ले गये। वहां एक तांत्रिक से भी दिखाया गया था। इस दौरान रिश्तेदार के पास भी गया था। जब तबीयत अधिक बिगड़ने लगी तो परिजन टेम्पो से उसे मायागंज अस्पताल जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी थी।

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>