" />
Published On: Wed, Oct 17th, 2018

गुंडा दिनेश मुनि व अशोक मंडल के घर कुर्की, सामान जब्त, घर भी तोड़े

दुधैला दियारा में हुई गुंडे और पुलिस की मुठभेड़ में पसराहा थानेदार आशीष कुमार सिंह के शहीद होने के बाद एसटीएफ का कांबिंग ऑपरेशन मंगलवार दोपहर 12 बजे से जारी है। गुंडा दिनेश मुनि, अशाेक मंडल समेत अन्य की गिरफ्तारी के लिए मंगलवार को खगड़िया, पूर्णिया और भागलपुर के सुल्तानगंज में दबिश दी। खगड़िया के तिहाय में मुनि और सुल्तानगंज दुधैला मोहल्ला स्थित अशोक मंडल के घर पुलिस ने कुर्की की।

मुनि का घर भी तोड़ा। बदमाश मुनि के घर से सामान जब्त कर थाने में रखा गया है, जबकि अशोक ने अपने घर से पहले ही सामान हटा लिया था। उसकी विधवा बहू का सामान बिहपुर पुलिस ने जब्त किया है। उधर, पूर्णिया पसराहा, महेशखूंट, भरतखंड व परबत्ता पुलिस मुनि के तिहाय स्थित घर पहुंची। उसके घर की कुर्की की और सामान जब्त किए और मकान तोड़ दिया। बिहपुर पुलिस सुल्तानगंज नगर परिषद के वार्ड-24 में अशोक के घर पहुंची। दुधैला मोहल्ले में अशोक का घर कुर्क किया। लेकिन इसकी जानकारी उसे पहले मिल गई और उसने अपना सामान हटा लिया था।

दुधैला दियारा में बासा बनाकर रह रहा था अशोक

पुलिस ने बताया कि बदमाश अशोक मंडल नारायणपुर के दुधैला दियारा में बासा बनाकर रह रहा था। मुठभेड़ में मारा गया गुंडा श्रवण यादव और दिनेश मुनि भी इसी बासा में शुक्रवार रात मौजूद था। बताया जा रहा है कि पहली पूजा को बुधवार सुबह अशोक अपनी प|ी-बच्चों के साथ सुल्तानगंज से गंगा घाट पर नाव में सवार हो अपने नारायणपुर दुधैला स्थित बासा गया था। उसी शाम कई बदमाश उसके बासा पर गए थे। गुरुवार सुबह अन्य बदमाश चले गए, लेकिन शुक्रवार शाम 8 बजे पांच बदमाश उसके बासा पर आकर ठहर गए।

दिनेश मुनि मुठभेड़ में हुआ था घायल ग्रामीण डॉक्टर से करवाया इलाज

एसटीएफ कांबिंग ऑपरेशन से डरकर बदमाशों ने दियारा खाली कर दिया है। पुलिस के अनुसार, मुठभेड़ में दिनेश मुनि भी जख्मी हुआ। उसके पैर में गोली लगी है। उसने किसी गांव के डॉक्टर से इलाज करवाया था। पुलिस उस डॉक्टर को भी ढूंढ़ रही है।

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......