" />

कवि रूप में दिखे बिहार के डीजीपी, कहा- वफादारी वतन से हो, यही इस्लाम कहता है

adv

मिलेगी मंजिले मकसूद ये ईमान रखते हैं,ये अपनी रहनुमाई के लिए कोहराम रखते हैं। वो वफादारी वतन से हो यही इस्लाम कहता है,ये अपने दिल के धर्मों से ये हिन्दुस्तान कहता है। पीरो के ऐतिहासिक पड़ाव मैदान में शनिवार की रात एक शाम कौमी एकता के नाम कार्यक्रम के तहत आयोजित कवि सम्मेलन सह मुशायरा के मंच पर डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय कवि रूप में दिखे।

अपनी कविताओं के माध्यम से उन्होंने उपस्थित जनसमुदाय को आपसी सदभाव कायम रखने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि उनके एक कवि मित्र जौहर ने कविता के माध्यम से उनसे सवाल किया-हवेली झोपड़ी सबका मुकद्दर फूट जाएगा,अगर ये साथ हिन्दू-मुस्लिमों का छूट जाएगा। वो दुआ कीजै कि हममें प्यार के रिश्ते रहें कायम, ये रिश्ता टूट जाएगा तो भारत टूट जाएगा। अपने कवि मित्र का उन्होंने इस प्रकार जवाब दिया- हवेली-झोपड़ी सबका मुकद्दर कैसे फूटेगा,लुटेरा लूटने भी आएगा तो कैसे लूटेगा।

पीरो के ऐतिहासिक पड़ाव मैदान में शनिवार की रात एक शाम कौमी एकता के नाम ।

इससे पहले डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने अन्य लोगों के साथ कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इसके बाद कस्तूरबा विद्यालय की छात्राओं द्वारा राष्ट्रगान प्रस्तुत किया गया। आयोजकों द्वारा डीजीपी समेत अन्य आगत अतिथियों का सम्मान किया गया। उन्होंने इस आयोजन के लिए जदयू नेता मनोज उपाध्याय समेत आयोजन मंडली के सभी सदस्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की।

 

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जदयू के वरीय नेता और पिछड़ा आयोग के पूर्व सदस्य जगनारायण सिंह ने भी पीरोवासियों से आपसी सदभाव कायम रखने की अपील की। कार्यक्रम में शिरकत करने वाले प्रमुख लोगों में विधायक प्रभुनाथ राम, पूर्व विधायक भाई दिनेश, एसपी सुशील कुमार, डीएसपी जेपी राय, जगदीशपुर एसडीओ अरुण कुमार, पीरो डीएसपी अशोक कुमार आजाद, पीरो एसडीओ सुनील कुमार, बीडीओ मानेन्द्र कुमार सिंह, युवा जदयू के प्रिंस बजरंगी, विपिन चौधरी, कांग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष रेणु सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुजीबुर्रहमान खान, उप मुख्य पार्षद संतोष कुमार आदि लोग मौजूद थे

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

adv
error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......