असिस्टेंट प्रोफेसर नियुक्ति में चार नये एलाइड विषयों को मान्यता, अब इन एलाइड विषय वाले भी कर सकेंगे आवेदन

पटना : बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग ने असिस्टेंट प्रोफेसरों की नियुक्ति के लिए चार विषयों में चार नये एलाइड विषयों को मान्यता दी है. आयोग ने पॉलिटिकल साइंस में एलाइड अथवा रिलेवेंट विषय के रूप में पॉलिटिकल एंड इंटरनेशनल रिलेशंस में पोस्ट ग्रेजुएट, बॉटनी और जूलॉजी में बायो-इन्फाॅर्मेटिक्स और इकोनॉमिक्स में एप्लाइड इकोनॉमिक्स को मान्यता दी है.

नये आदेश के मुताबिक इन विषयों में पोस्ट ग्रेजुएट डिग्रीधारी विद्यार्थी भी संबंधित विषयों में आवेदन कर सकेंगे. आयोग की तरफ से जारी आधिकारिक जानकारी के मुताबिक बॉटनी और जूलॉजी के नये एलाइड विषयों को तभी मान्य किया जायेगा, जब अभ्यर्थी ने ऑनर्स डिग्री के दौरान क्रमश: बॉटनी और जूलॉजी विषय को आवश्यक विषय के रूप में अध्ययन किया हो.

बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग ने अपनी आधिकारिक सूचना में साफ किया है कि जिस विश्वविद्यालय में सीजीपीए और ग्रेड को प्रतिशत अंकों में परिवर्तित करने की नियमावली नहीं है, वैसी स्थिति में एआइसीटीइ की तरफ से सीजीपीए और ग्रेड को प्रतिशत अंकों में परिवर्तन करने का नियम मान्य होगा.

अब इन एलाइड विषय वाले भी कर सकेंगे आवेदन

  • पॉलिटिकल साइंस पॉलिटिकल एंड इंटरनेशनल रिलेशंस
  • बॉटनी बायो-इन्फाॅर्मेटिक्स
  • जूलॉजी बायो-इन्फाॅर्मेटिक्स
  • इकोनॉमिक्स एप्लाइड इकोनॉमिक्स

4638 पदों के लिए अब तक 40 हजार से अधिक आवेदन

आयोग के सूत्रों के मुताबिक असिस्टेंट प्रोफेसरों के पद के लिए अब तक 40 हजार से अधिक आवेदन आ चुके हैं. उल्लेखनीय है कि प्रदेश के परंपरागत सभी विश्वविद्यालयों में 52 विषयों के करीब 4638 रिक्त पदों पर नियुक्ति की जानी है. दो दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि निर्धारित की गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *